राजनीति

कांग्रेस की चाटुकारिता की अद्भुत मिसाल:सारे दौग्लेबाज पत्रकार नेहरु के बचाव में उतर आये

सागरिका घोस ने नेहरु की तारीफ़ के पुल बाँध कर दिखा दिए अपने असली रंग

प्रधानमंत्री मोदी जी ने कल देश की आँखें खोलने के लिए ऐसा भाषण दिया जिसे न तो लोग और न ही खानग्रेस कभी भूल पाएगी| मोदी जी ने कल गाँधी परिवार का काला चिठा लोगों के सामने खोल के रख दिया की किस तरह गाँधी –नेहरु के कुकर्मों की सजा आज पूरा देश भुगत रहा है,मासूम जनता भुगत रही है|

जाहिर सी बात है कल उसके बाद बहुत लोगों के गले से निवाला नही उतरा होगा|बहुत से लोगों को सुइयां चुभनी शुरू हो गयी थी और उन सब बुद्धिजीवियों ने इस बात का विरोध करना शुरू कर दिया|उन्होंने नेहरु का गुणगान करना शुरू करदिया|

आनंद शर्मा ने नेहरू गांधी परिवार का जयगान करते हुए देश की आज़ादी के लिए नेहरू के महान बलिदान का राग अलापना शुरू कर दिया| “THE WIRE” जैसी बिकाऊ पत्रिकाओं ने नेहरु पे लेख लिखने शुरू करदिये “Nehru India Cannot Forget” और नेहरू की सारी वैचारिक औलादें भी उसके समर्थन में कूद पड़ी |

सागरिका जैसे दौग्लेबाज़ मीडिया पत्रकार भी नेहरु के समर्थन में ट्वीट करने लगी|

सागरिका ने तो शर्म की हर हद पार करते हुए ये तक कहदिया की आज अगर भारत है तो वो केवल नेहरु की वजह से है और अगर नेहरु न होते तो आज भारत आंतकी देश होता| अगर नेहरू न होते तो भारत में कोई शिक्षा ही न होती सब अनपढ़ होते, भारत में सिर्फ गौशाला होता, मनुवादी गुंडे आतंकी होते, और हिन्दू अन्धविश्वास और मन्त्र ही गूंज रहे होते|तभी तो सागरिका जी आज भारत में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लग रहे है|आप के नेहरु ने तो हिन्दू अन्धविश्वास ही नही हिन्दू धर्म को मिटाने की ही पूरी कोशिश की थी|

सागरिका ने नेहरू की तारीफ में ये भी कहा की नेहरू ने डिस्कवरी ऑफ़ इंडिया नामक कितनी सुन्दर और अच्छी किताब लिखी है, ऐसी किताब कोई और नही लिख पाता|बिलकुल सागरिका जी कोई नही लिख पाता ऐसी किताब जहां इतिहास के तथ्यों को मोड़ त्रोड़ के पेश किया गया| ये बताया गया की अकबर महान था और उसने महाराणा प्रताप को हरा दिया, मुगलों ने भारत का विकास किया, और भारत में बहुत भव्यता से राज किया, औरंगजेब से लेकर अकबर की खूब प्रशंसा की गयी सच में कोई नही कर पाता|कोई और बिलकुल ही भारत की छवि को इस तरह तार तार नही कर पाता|

पर क्या करें तुम भी तो उसी प्रवृति की हो तभी तो तुम जैसे लोगों को नेहरु महान और उसकी द्वारा लिखी किताब अद्भुत लग रही है |साफ़ नज़र आता है की तुम लोगों में अपने देश और हिन्दुओं के प्रति कितनी नफरत भरी हुई है तभी तो हमेशा देश विरोधी ब्यान देती रहती हो और देश को नीचे गिराने वाले तुम्हे महान लगते है|

पर कुछ बातें जो तुम सब जानते हुए भी अनजान बन रहे हो उन पर दोबारा तुम्हारी रौशनी डलवाना चाहूंगी|सच्चाई तो ये है की अगर नेहरु न होता तो संयुक्त राष्ट्र की स्थाई सीट चीन को न मिलती|1962 के युद्ध में भारत को हार न मिलती,न कोई पाकिस्तान होता,न अंतकवाद होता,न कोई घोटाले होते,न गरीबी होती,न आरक्षण होता और सबसे जरूरी ये वंश वाद न होता जिसने इतने साल भारत की जनता को लूट लूट के खाया| आज कश्मीर हमारा होता, आज भारत एक विकसित देश होता|नेहरु न होता तो तुम जैसे देश द्रोही भी इस देश में नही होते|

 

 

 

Tags

Related Articles