अर्थव्यवस्थासैन्य सुरक्षा

कौनसे हैं वो दस दॆश जिनकी रक्षा व्यवस्था है दमदार और अभेध्य? भारत कहाँ खडा है इन देशॊं के बीच में?

देश की शक्ति कॊ उसकॆ आर्थिक परिस्थिति और उसके रक्षा व्यवस्था के ज़रिए आकाँ जाता है। दुनिया में ऎसे कई देश है जॊ आर्थिक रूप से सबल ही नहीं बल्की अत्याधुनिक रक्षा और मज़बूत सेना से लॆस है। सब जानते हैं कि तीन साल पहलॆ भारत की अर्थ व्यवस्था और भारत की सेना जवानों की दशा कैसी थी।

घॊटलॊं में व्यस्थ कोँग्रेस पार्टी कॊ देश के आंतरिक सुरक्षा से कोई मतलब नहीं था। जिन्के नाक के नीचे घोटले हॊ रहे थे वो तो मौनं शरणं गच्छामी कह रहे थे। सरहद पर जवान जान की बाज़ी लगा रहॆ थॆ लेकिन पार्टी अला कमान अप्नी संपत्ती बढाने में लगी हुई थी। लेकिन आज हालात कुछ और है।

मॊदी जी के आने के बाद न सिर्फ हमारे जवानॊं के दिल में जोश जगा है, बल्की हाथों में अत्याधुनिक अस्त्र-शस्त्र भी हैं। किसी भी परिस्थिथी कॊ झेलने के लिये हमारी सेना सदा सन्नद्ध है। दुनिया मे ऐसे दस देश है जिनकी रक्षा ववस्था कि चर्चा हॊती है। उनमे से है

१०. ब्राज़ील: खेल-खूद मौज-मस्ती के लिये प्रसिद्ध यह देश अपनी सेना श्क्ती के लिये भी मशहूर है। रक्षा के शक्ती सूची में ०.६९१२ की अंक प्राप्त है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ३१,५७६,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन ३७१,१९९ और १०४,७००,००० सेना कर्मचारी हैं। ८२२ युद्ध विमान और १०६ जहाज़ हैं। इस देश की सेना को अति उत्तम का दर्जा प्राप्त है।

९. इटली: सिर्फ अपने वस्त्र विन्यास और पिझा-पास्ता के लिये ही नही अपितु देश की सुरक्षा के मामले में भी यह देश अव्वल है। रक्षा के शक्ती सूची में ०.६८३८ की अंक प्राप्त है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ३१,९४६०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन २९३,२०२ और २५,०८०,००० सेना कर्मचारी हैं। ७७० युद्ध विमान और १७९ जहाज़ हैं। शक्ति सामर्थ्य में इटली भी किसी से कम नहीं।

८.  दक्षिण कॊरिया: अपनी गंग्नम स्टाईल से दुनिया को लुभानेवाली, सेम्ससंग मॊबाइलों की जननी यह देश सुसज्जित युद्ध उपकरणॊं से लेस है। रक्षा के शक्ती सूची में ०.६५४ की अंक प्राप्त है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब २८,२८०,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन ६५३,००० और २५,१००,१०० सेना कर्मचारी हैं। ८७१ युद्ध विमान और १९० जहाज़ है।

७. जर्मनी: तानाशाह हिट्लर और अपनी आधुनिक गाडियॊं के लिये प्रसिद्ध इस देश की शक्ती सूची ०.६४९ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ४३,४७८,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन १४८.९९६ और ४३,६२०,००० सेना कर्मचारी हैं। ९२५ युद्ध विमान और ६७ जहाज़ है।

६. फ्रांस: इस देश की शक्ती सूची ०.६१६३ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ५८,२४४,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन ३६५,४८५ और २९,६१०,०० सेना कर्मचारी हैं। ५४४ युद्ध विमान और १८० जहाज़ हैं।

५. युनायिटेड किंग्ड्म: अपनी तहज़ीब और शौक के लिये मश्हूर इस देश की शक्ती सूची ०.५१८५ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ५७,८७५,१७०,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन २२४,५०० और ३१,७२०,००० सेना कर्मचारी हैं। १४१२ युद्ध विमान और ७७ जहाज़ हैं।

४. भारत: हमारा देश इन सभी देशॊं कॊ पछाडकर चौथे पायदान पर खडा है। सारी दुनिया हमारी सेना और जवानॊं की शक्ती के बारे में जानती है। विषम से विषम परिस्थिथियॊं में भी हमारी सेना अपने दिलॆरी की मिसाल कायम कर चुकि है। शक्ती सूची में हमॆं ०.४३४६ अंक प्राप्त है। देश की रक्षा आय व्यय करीब ४४,२८२,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन १३,२५,००० और ४८७,६००,००० सेना कर्मचारी हैं। १९६२ युद्ध विमान और १७० जहाज़ हैं। अभी और अत्याधुनिक उपकारण एवं परमाणू बम भी सेना की शॊभा बढानेवाले हैं।

३. चीन: दुनिया के हर कॊने में अपनी छाप छॊड्नेवाली ये दॆश रक्षा के मामलॆ में भी अव्वल है। इस देश की शक्ती सूची ०.३३५१ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब १२९,२७२,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन २२,८५,००० और ७९५,५००,००० सेना कर्मचारी हैं। ५०४८ युद्ध विमान और ९७२ जहाज़ हैं।

२.रुस: १९९१ के विघट्न के बावजूद भी रूस इस सूची में खुद कॊ दूसरे पायदान में खडा पाता है। इस देश की शक्ती सूची ०.२६१८ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ६४,०००,०००,००० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन १,२००,००० और ७५,३३०,००० सेना कर्मचारी हैं। ४४९८ युद्ध विमान और २२४ जहाज़ हैं।

१. युनायिटेड स्टेट्स ओफ अमरीका: दुनिया का बडा भाई कह्लानेवाला यह देश रक्षा के मामलॆ में भी बडा भाई ही है। दुनिया के सारे देश अमरीका से डरते हैं। इस देश क कहर इत्ना ज़्यादा है कि किसी भी देश में इत्ना साहस नहीं की उससे लॊहा ले। अमरीका की शक्ती सूची ०.२४७५ है। इस देश की रक्षा आय व्यय करीब ६८९,५९१,००,०० डॉलर है। जाग्रत सेना जवानॊं कि संख्या हैं तक्रीबन १,४७७,८९६ और ७५३,६००,००० सेना कर्मचारी हैं। १५,२९३ युद्ध विमान और २९० जहाज़ हैं।

हमें गर्व हॊना चाहिए कि हमारा देश इस सूची में चौथे पायदान पर खडा है। हमारे जवान और हमारी सेना भी किसी से कम नही। कमी थी तो सिर्फ़ आदुनिक उपकरण, मूलभूत ज़रूरतें, बुलेट प्रूफ अंगकवच और थोडी सी आत्मविश्वास की जॊ मोदी जी के आनॆ के बाद पूरी हॊती हुई नज़र आती है…

(सूचना: परमाणू उपकरणॊं को इस सूची में शामिल नहीं किया गया है)


Sharon Shetty

Tags

Related Articles