देशभक्तिसैन्य सुरक्षा

“जितनी बार भारत को छेड़ेगा, पाकिस्तान उतनी बार तुझे अंजाम भुक्तना पड़ेगा” भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान को दिया मुंह तोड़ जवाब

23 दिसंबर 2017 को जम्मू और कश्मीर के के राजोरी के कर्नी क्षेत्र से सटे (LoC) पर पाकिस्तानी सेना ने फिर सीजफायर तोड़ा और गोलीबारी की|पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा कायरतापूर्वक हमले के बाद भारतीय सेना के एक मेजर समेत तीन बहादुर जवान शहीद हुए थे| इसके अलावा एक घायल सैन्यकर्मी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया| उनकी निकायों को पाकिस्तानी सीमा एक्शन टीम द्वारा बुरी तरह प्रभावित किया गया था। कोई भी मौका हो पकिस्तान हमेशा अपनी हैवानियत को प्रस्तुत करता रहता है फिर चाहे वो भारतीय सेना के जवानों पर हमला हो या कुलभूषण यादव से उसके परिवार का मिलना हो| शहीद हुए सैन्यकर्मियों की पहचान मेजर मोहरकर प्रफुल्ला अम्बादास, लांस नायक गुरमैल सिंह और सिपाही परगट सिंह के रूप में हुई|

 

 

क्या पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज़ आयेगा? क्या भारत के खिलाफ चल रही आंतक की पाकिस्तानी फैक्ट्री पे रोक लगेगी? पाकिस्तान अगर अपनी हरकतों से बाज़ नही आएगा तो भारत भी चुप नही बैठेगा| आज भारत की सेना ने पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देते हुए ये अच्छे से समझा दिया है की पाकिस्तान जितनी बार भारत को छेड़ेगा उसे उसका अंजाम भुक्तना पड़ेगा| सर्जिकल स्ट्राइक-2 को अंजाम देते हुए भारतीय सेना ने 48 घंटों के भीतर अपने चार सैनिकों की शहादत का बदला पाकिस्तान से ले लिया| कल रात भारत ने पुंछ के पास रावलाकोट सेक्टर में जवाबी फायरिंग में तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया और एक घायल हो गया है। एजेंसियों ने मारे गये सैनिकों की सिपाही सज्जाद, सिपाही अब्दुल रहमान और सिपाही मसूमन के रूप में पहचान की है। घायल सैनिक की सिपाही अथाज़ हुसैन के रूप में पहचान की गई है।

 

भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा को पार किया, बॉर्डर के उस पार गए और तीन पाकिस्तान सेना के जवानों को मौत के घाट उतार दिया| यह पहली बार नहीं है जब भारत ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर उसपर हमला किया हो| अब से लगभग 15 महीने पहले भी भारत ने पाकिस्तान में घुसकर पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर कर दिया था| पाकिस्तानी वेबसाइट्स, सोशल मीडिया और आईएसपीआर इस पर गंभीर चुप्पी बनाए रखते हैं।

 

 

सेना की इस कार्रवाई के बाद अलग अलग प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई हैं| रक्षा विशेषज्ञ आरएसएन सिंह ने कहा है कि पीओके हमारा है, हम जब चाहें वहां जा सकते हैं. वो हमारी ही जगह है| उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जैसा करेगा उसे वैसा ही भरना होगा|हमारी कोशिश है कि प्रॉक्सी वॉर को अब पाकिस्तान की जमीन पर लाया जाए| विशेषज्ञ ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने जेहादियों को बैठा रखा है|उसका जवाब इसी तरह दिया जा सकता है|रक्षा विशेषज्ञ बीएस जसवाल बोले कि ये प्रॉक्सी वार तभी खत्म हो सकता है जब पाकिस्तान इसे करना चाहेगा| जब तक पाकिस्तान आतंकियों को अपनी रणनीति से बाहर नहीं निकालता है तब तक भारत का ऐसा रुख जारी रहेगा|

 

वहीं दूसरी और कांग्रेस ने हमेशा की तरह कांग्रेस ने फिर से अपने सैनिकों की तारीफ़ की बजाये बीजेपी पर तंज कसने शुरू करदिये है| कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट किया कि अगर सूत्र सही हैं तो बीजेपी सरकार अब इसे सर्जिकल स्ट्राइक घोषित करेगी|हालांकि, सच्चाई ये है कि इस प्रकार की कार्रवाई 1998 से शुरू हो गयी थी|

इसी के साथ ही सेना ने मुह तोड़ जवाब देते हुए जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के समबोरा इलाके में एक मुठभेड़ में जयश-ए-मोहम्मद आतंकवादी नूर मोहम्मद तेंत्रे को भी मौत के घाट उतार दिया है|  आतंकवादी नूर मोहम्मद तेंत्रे इस साल के शुरू में श्रीनगर हवाई अड्डे पर एक आत्मघाती हमले का मास्टरमाइंड था। दक्षिण कश्मीर के त्राल इलाके से घिरे तंतराय की मृत्यु को आतंकवादी समूह के लिए झटका माना जाता है क्योंकि वह दक्षिण और केंद्रीय कश्मीर में जेईएम को पुनर्जीवित करने में प्रमुख व्यक्ति थे।

 

 

जो हर समय एक भारतीय सैनिक शहीद हो जाने के बाद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से दुर्व्यवहार करते हैं, उन्हें समझ लेना चाहिए की नियंत्रण रेखा को पार बिना सरकार की अनुमति के नही किया जा सकता। हम सभी को याद है कि प्रधान मंत्री वाजपेयी ने कारगिल युद्ध के दौरान सेना को एलओसी पार करने की अनुमति नहीं दी थी। सैनिकों को एक युद्ध के दौरान नियंत्रण रेखा को पार करने की इजाजत देने से, बदला लेने के लिए हक मिल जाता है| प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सेनाओं का समर्थन करने उन्हें स्वतंत्रता दिखाने के लिए आज़ादी दी है। सरकार की आलोचना करने के बजाय, लोगों को उस अभूतपूर्व तरीके को समझना चाहिए जिसमें भारत अब अपने दुश्मनों को जवाब दे रहा है|

भारत के जवानों  को शत शत नमन…..

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Source
AAJ TAK
Tags

Related Articles